Hot
#देश

Mahadev betting case : कौन है सौरभ चंद्राकर, जिसने शादी में किए 200 करोड़ खर्च, जूस की दुकान चलाने वाला कैसे बना ‘ सट्टा किंग ’

महादेव सट्टा ऐप : सौरभ चंद्राकर और उप्पल दोनो पहले स्थानीय स्तर पर सट्टेबाजी करते थे। दुबई जाने के बाद महादेव बैटिंग ऐप लांच किया। सौरभ चंद्राकर छत्तीसगढ़ के भिलाई में जूस बेचता था जबकि उसके साथी उप्पल के पास इंजीनियरिंग की डिग्री है।

रायपुर : ED ने ऑनलाइन सट्टा ऐप महादेव बुक मनी लांड्रिंग के मामले में बड़ी कार्यवाही की है। ईडी की टीम ने बताया की शुक्रवार को कोलकाता, भोपाल, मुंबई में तलाशी के बाद 417 करोड़ रुपए जब्त किए हैं। एजेंसी ने कहा की मामले की जांच में पता चला की छत्तीसगढ़ भिलाई में रहने वाला सौरभ चंद्राकर और रवि उप्पल महादेव बैटिंग ऐप के मुख्य संचालक हैं।

सौरभ चंद्राकर छत्तीसगढ़ के भिलाई का रहने वाला है। उसके पिता नगर निगम में पम्प ऑपरेटर थे। सौरभ जूस की दुकान चलाता था। 2019 में वो दुबई गया और अपने दोस्त रवि उप्पल को भी बुलाया। इसके बाद दोनो ने मिलकर महादेव बैटिंग ऐप लांच किया और धीरे–धीरे ऑनलाइन सट्टा बाजार का बड़ा नाम बन गया।

शादी में खर्च किए 200 करोड़ रूपए : सौरभ चंद्राकर ने फरवरी 2023 में। यूएई में शादी की और इस विवाह समारोह में उसने 200 रुपए खर्च किए। परिवार के सदस्यों को नागपुर से यूएई तक ले जाने के लिए निजी जेट किराए पर लिए गए थे।

शादी में शामिल हुए थे कई सेलिब्रिटी : चंद्राकर के शादी में कई मशहूर सेलिब्रिटी शामिल हुए थे। जिनमे सनी लियोन, टाइगर श्रॉफ आदि शामिल थे वहीं पाकिस्तान से राहत फतह अली खान और आतिफ असलम के शामिल होने की खबर है।

शादी का सारा भुगतान नकद किया गया : चंद्राकर ने शादी का सारा काम योगेश पोपट को एक इवेंट मैनेजमेंट कंपनी ‘ आर – 1 इवेंट प्राइवेट लिमिटेड को दिया था। जहां इसने इवेंट मैनेजमेंट कंपनी को 112 करोड़ रूपए दिए और 42 करोड़ रुपए में होटल बुकिंग नकद भुगतान करके की गई थी।

अब तक कई लोगों की गिरफ्तारी : ईडी ने हाल ही में इस मामले में छत्तीसगढ़ पुलिस के सहायक उप–निरीक्षक चंद्रभूषण वर्मा, एसोसिएट कमिश्नर अभिषेक चंद्राकर, पर्यवेक्षक अनिल दम्मानी को गिरफ्तार किया था। महादेव ऐप से जुड़े मनी लांड्रिंग मामले में विनोद वर्मा से भी पूछताछ की थी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *